BIKANER WEATHER
Bikaner

स्टाफ का पानी पीने पर छात्र पर बरसाए डंडे-घूंसे:स्कूल में घुसे 100 से ज्यादा लोग; टीचर को राजस्थान पुलिस के सामने पीटा

Pugal News Pugal News

स्टाफ का पानी पीने पर छात्र पर बरसाए डंडे-घूंसे:स्कूल में घुसे 100 से ज्यादा लोग; टीचर को राजस्थान पुलिस के सामने पीटा

Rajasthan News

भरतपुर में शुक्रवार को एक टीचर ने 7वीं क्लास के दलित छात्र की डंडों और घूंसों से पिटाई कर दी। बच्चे का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने स्टाफ के लिए रखा पानी पी लिया था। गुस्साए परिजनों और ग्रामीणों ने शनिवार सुबह स्कूल पर धावा बोल कर आरोपी टीचर को पीट दिया। इसके बाद बयाना थाने में मामला दर्ज कराया है।

बयाना थाना SHO सुनील कुमार ने बताया- मामला बयाना कस्बे में भीमनगर के राजकीय उच्च प्राथमिक स्कूल का है। पीड़ित छात्र (12) के भाई रन सिंह की ओर से शनिवार को आरोपी टीचर गंगाराम गुर्जर के खिलाफ जाति सूचक शब्दों से अपमानित कर मारपीट करने का मामला दर्ज कराया गया है। छात्र का मेडिकल करवाया गया है। मामले की जांच डिप्टी एसपी नीतिराज सिंह शेखावत कर रहे हैं। फिलहाल शिक्षक गंगाराम को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है।

तीन छात्रों ने पानी लिया, पर पीटा सिर्फ मुझे

पीड़ित छात्र ने बताया- कल (शुक्रवार) सुबह 7 बजे स्कूल आया था। प्रार्थना के बाद क्लास में बैठ गए। फिर पानी के कैंपर की गाड़ी आ गई। कैंपर से टीचर्स के लिए पानी भरते वक्त कुछ बच्चों ने पानी फैला दिया था। स्कूल की टंकी में पानी नहीं था। इसलिए दो सहपाठियों ने टीचर्स के लिए रखे कैंपर से पानी की बोतल भर ली थी। उनकी देखा-देखी मैंने भी बोतल में पानी भरकर पी लिया। इसके बाद सर (गंगाराम गुर्जर) ने क्लास में कैंपर से पानी पीने वाले हम तीनों छात्रों को खड़ा कर दिया। उन्होंने बाकी दोनों छात्रों को बैठा दिया और मुझे पीटने के लिए क्लास के बच्चे से डंडा मंगा लिया। इसके बाद उन्होंने मेरी पिटाई की।

2 लाख रुपए का दिया ऑफर

भीमनगर पहरिया अंबेडकर कॉलोनी निवासी रन सिंह ने बताया- मेरे पिता की 2012 में सिलिकोसिस बीमारी से मौत हो गई थी। सालभर बाद 2013 में मां का टाइफाइड से निधन हो गया। छोटे भाई को तब से मैं ही पाल रहा हूं। वह 7वीं क्लास में पढ़ता है। शुक्रवार को स्कूल गया तो स्टाफ के लिए रखा पानी पीने पर ही उसे बुरी तरह पीटा। गंगाराम ने डंडे और घूंसों से बच्चे के पिटाई की। पीठ पर चोट के निशान हैं। छोटे भाई ने शुक्रवार दोपहर 1 बजे स्कूल से घर आकर सारी बात बताई।

इसके बाद शनिवार सुबह 7 बजे स्कूल के हेड मास्टर रामकुमार शर्मा और टीचर नवल किशोर मेरे घर आए। उन्होंने 2 लाख रुपए देकर मामला रफा-दफा करने की बात कही।

टीचर ने सिर्फ डांट-डपट की थी

इधर, स्कूल के हेड मास्टर रामकुमार शर्मा ने बताया कि​​​​​ छात्र ने कैंपर का पानी जान-बूझकर फैला दिया था। इसके कारण शिक्षक ने उसके साथ केवल डांट-डपट की थी। बस्ती के लोग बिना वजह मामले को तूल दे रहे हैं। उन्होंने स्कूल में आकर शिक्षक की पिटाई भी कर दी।

जांच कमेटी बनाई

बयाना CBEO रामलखन खटाना ने बताया कि मामले की जांच के लिए कमेटी गठित की गई है। कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद जो भी फैक्ट सामने आएंगे, उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। घटना को लेकर उच्च अधिकारियों को सूचित किया गया है।

Advertisements
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
YouTube Channel Subscribe Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button