BIKANER WEATHER
BikanerKhajuwalaKolayat

अवैध जिप्सम खनन:एक जेसीबी दो एलएनटी-मशीन और 25 ट्रक पकड़े, माफिया में हड़कंप

Pugal News Pugal News

अवैध जिप्सम खनन – खाजूवाला में अवैध जिप्सम के खिलाफ सख्ती शुरू की गई तो माफिया गिरोह ने बज्जू की ओर रुख कर लिया है। शुक्रवार की रात को जिप्सम माफिया पूरे साजो-सामान और लवाजमे के साथ बज्जू के कायमवाला में बड़े पैमाने पर अवैध खनन करने पहुंचा। इसका पता चलने पर प्रशासन ने दबिश दी तो मौके से दो एलएनटी, एक जेसीबी और 25 ट्रक पकड़े गए। माफिया गिरोह के लोग फरार हो गए। पिछले दिनों खाजूवाला में वन भूमि पर जिप्सम का अवैध खनन करने वालों के खिलाफ लगातार कार्यवाही हुई थी। वहां सख्ती देखकर माफिया गिरोह के लोगों ने अपना रुख बज्जू की तरफ कर लिया। शुक्रवार की रात को माफिया गिरोह के लोग करोड़ों रुपए की मशीनें और गाडिय़ां लेकर बज्जू के कायमवाला गांव में सरकारी आबादी भूमि पर पहुंचे और रात करीब 10 बजे जिप्सम का अवैध खनन शुरू कर दिया।

ग्रामीणों ने उनकी गाड़ियों का लवाजमा देखकर पहले ही प्रशासन को सूचना कर दी थी। एसडीएम, तहसीलदार, पटवारी, पुलिस और खान विभाग की टीमों ने एक साथ 11 बजे कायमवाला में दबिश दी तो माफिया गिरोह में हड़कंप मच गया। उनके लोग गाड़िया लेकर भागने लगे। कुछ पकड़े जाने के डर से गाड़ियां छोड़कर भाग निकले। प्रशासन ने मौके से दो एलएनटी और एक जेसीबी मशीन व 25 ट्रक पकड़े हैं। इनमें से ज्यादा ट्रक ट्रेलर हैं जिनमें 50 टन तक जिप्सम आसानी से भरा जा सकता है। एलएनटी और जेसीबी सहित 9 ट्रक रणजीतपुरा पुलिस थाने में खड़े किए गए हैं। इनमें से आठ ट्रक खाली हैं। रातभर कार्रवाई चली और सुबह मशीनों और ट्रक मालिकों के बारे में छानबीन शुरू की गई। 25 में से 15 ट्रकों के मालिकों का पता चला और वे मौके पर पहुंचे, जबकि 10 ट्रकों के मालिक शनिवार रात तक भी नहीं आए थे।

कमिश्नर-कलेक्टर तक पहुंची थी शिकायत: 

संभागीय आयुक्त उर्मिला राजोरिया और कलेक्टर भगवतीप्रसाद कलाल तक बज्जू में जिप्सम की अवैध शिकायत पहुंची थी। 22 सितंबर को रेवन्यू विभाग के अधिकारियों ने कायमवाला में दबिश दी थी, लेकिन वहां कोई नहीं मिला। हालांकि, जिप्सम का अवैध खनन पाया गया था और अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस थाने में केस भी दर्ज कराया गया था। कमिश्नर उर्मिला राजोरिया ने इस मामले की पूरी रिपोर्ट मांगी थी। कलेक्टर ने भी 13 सितंबर को मीटिंग में रेवेन्यू डिपार्टमेंट के अधिकारियों को कार्रवाई के लिए कहा और खान विभाग के अधिकारियों को डांट भी लगाई थी। उसके बाद से ही रेवेन्यू के अधिकारी जिप्सम माफिया के खिलाफ कार्यवाही की ताक में थे।

बज्जू एसडीएम रणजीत बिजारणिया ने बताया कि कायमवाला, कब्रेवाला सहित अनेक इलाकों में जिप्सम के अवैध खनन की शिकायतें मिल रही थीं। पूर्व में दो बार पकड़ने की कोशिश की गई, लेकिन माफिया गिरोह को पता चल गया और वे मौके से निकलने में सफल हो गए थे। इस बार रणनीति बनाई। रास्ता बदला। रेवन्यू का पूरा स्टाफ, पुलिस जाब्ता साथ लिया और रास्ता बदलकर गुपचुप तरीके से कायमवाला पहुंचकर दबिश दी। मौके पर बहुत बड़े स्तर पर जिप्सम खोदने की तैयारी थी। वहां हड़कंप मच गया। माफिया गिरोह के लोग भागे तो उनका पीछा कर गाडिय़ां पकड़ी। कुछ ड्राइवर बीच रास्ते में अपनी गाडिय़ां छोड़कर भाग निकले। मौके से दो किमी के दायरे में अलग-अलग जगह ट्रक बरामद हुए जिनकी रातभर रखवाली की। खान विभाग की टीम को बुलाया गया। कुछ ट्रक कायमवाला आबादी के आसपास लीज और परमिट वाले एरिया में चले गए। उन लीज और परमिट धारकों से पूछा गया कि गाडिय़ां उन्हीं की हैं या नहीं। मना करने पर उन गाड़ियों को भी पकड़ा गया है। एसएचओ भूपसिंह सारण ने बताया कि तीन मशीन और 9 ट्रक थाने में खड़े कराए हैं। जो पैनल्टी जमा कराएगा उनकी गाडिय़ां छोड़ी जाएंगी। शेष पर मुकदमे दर्ज होंगे।

खान विभाग ने आंखें मूंदी, बीकानेर में एमई ही नहीं: 

बीकानेर जिले में जिप्सम का बड़े पैमाने पर अवैध खनन हो रहा है, लेकिन खान विभाग के अधिकारियों ने आंखें मूंद रखी है। जिप्सम माफिया बज्जू और खाजूवाला में रात-रात भर करोड़ों रुपयों की मशीनें लगाकर बेखौफ जिप्सम खोदता है। खान विभाग के अधिकारियों की ओर से बड़ी कार्रवाई नहीं की जाती। खाजूवाला में अवैध खनन पर यह कहकर बच जाते हैं कि वन विभाग की जमीन पर हा़े रहा है। वन विभाग ही कार्यवाही करेगा। हालात यह है कि बीकानेर में खान विभाग का मुख्य अधिकारी खनि अभियंता की पोस्टिंग नहीं की गई है। सोजत के एमई धीरज पंवार के पास चार्ज है जो बीकानेर नहीं बैठते। प्रशासन या वन विभाग की ओर से बड़ी कार्रवाई करने के बाद केवल फोरमैन मौके पर पहुंचते हैं। शुक्रवार की रात को कायमवाला में कार्यवाही पर भी फोरमैन विजयसिंह और माधवी को मौके पर भेजा गया। एमई पंवार का फोन नो-रिप्लाई था।

Advertisements
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
YouTube Channel Subscribe Now

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button